OdishaTrending News

जहाँ न पहुंचे बैल गाड़ी वहाँ पहुंचे मारवाड़ी।

जहाँ न पहुंचे बैल गाड़ी वहाँ पहुंचे मारवाड़ी।

सुधाकर कुमार शाही(Spl.Correspondent)

कटक:सालो पुरानी कहावत जहां न पहुंचे बैल गाड़ी वहाँ पहुंचे मारवाड़ी को आज मारवाड़ी युवा मंच की कटक साखा ने सिद्ध किया है। जितनी भी विसम परिस्थिति क्यों न हो कटक युवाओं ने लोगों की मदत करने हमेशा तैयार एबं तत्पर रहते।
लॉकडौन के दौरान जब पूरा देश बन्द था उस वक़्त भी लोगों को पक्का हुआ खाना मारवाड़ी युवा मंच कटक साखा ने पूरे एक महीने तक बितरण किया।
अब अनलॉक-1 या लॉकडौन-5 के दौरान जब ओडिशा राज्य में covid-19 की विकट परिस्थितियों की वजह से कटक में शनिवार और इतवार को सम्पूर्ण शटडॉउन रहता है जिसकी वजह से ओडिशा के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एस सी बी मेडिकल कॉलेज में बाहर से इलाज कराने आए हुए मरीजों के परिजनों को खाने की असुविधा हो रही थी।

जिसको देखते हुए स्थानीय पुलिस प्रशासन की अनुमति से कटक मंच परिवार की ओर से मेडिकल में पूरे महीने लगभग 6000 पैकेट रोटी एवं आलु छोले की सब्जी के पैकेट बनाकर वितरण किये गए। इसके लिए तकरीबन 20 से ज्यादा सदस्यों ने आकर बनाने में सहयोग किया इसके लिए सभी साथियों एवं समाज बंधुओं का अनेक अनेक धन्यवाद।

Leave a Reply