Skip to main content

अपना घर आश्रम है असहाय का सच्चा घर।


कटक: देश की अग्रणी सामाजिक संस्था अपना घर, उपेक्षित, गरीब, असहाय और मानसिक रूप से बीमार लोगों को बचाने के साथ-साथ उन्हें सम्मानजनक जीवन देने और उनके परिवारों को सौंपने का काम कर रही है। इसी क्रम में इस संस्था का शाखा, कटक ओडिशा में शुरू होने जा रहा है। इस का काम आधिकारिक तौर पर 14 दिसंबर, आज से शुरू हुआ। राज्य के हर जिले से असहाय लोगों को आश्रम में रखा जाएगा. बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, अस्पताल, धार्मिक संस्थान तथा अन्य जगहों से भी असहाय लोगों को लिया जाएगा. इस संबंध में सहस्राब्दी सेवक जिसने आश्रम और सेवा और दया को अपने जीवन की शपथ के रूप में चुना है, एक श्रृंखला के रूप में कार्य करेगा।

कटक स्थित जगतपुर सतबटिया में 75 जरूरत मंद लोगों के लिए आवासीय भवन बनाए गए हैं। पीड़ितों को अपना घर आश्रम में रखने और उन्हें हर तरह की सेवाएं मुफ्त में प्रदान करने की व्यवस्था की गई है. इसकी जानकारी भरतपुर से आये शैलेंद्र त्यागी एवं वीरपाल जी ने प्रैस विज्ञप्ति जारी कर दिया .उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में स्थित अपना घर आश्रम से 10 प्रभु जी (असहाय ) उड़ीसा के विभिन्न जिले के बेघर लोग आश्रम में आए हैं। परिवार का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। यदि परिवार का पता मिल जाता है तो उन्हें उनके परिवार तक भेजा जा सकता है . परिवार में वापस भेजने की सभी व्यवस्था आश्रम द्वारा की जाएगी।बताया कि राजस्थान के भरतपुर में स्थित माँ माधुरी बिरिजवारी सेवा सदन अपना घर के तत्वावधान में देश भर में 50 जगहों पर आश्रम बनाया गया है.आश्रम में 6000 से अधिक बेघर, असहाय, बीमार लोगों को रखा जा रहा है. उन्होंने कहा कि कोई बेघर व्यक्ति किसी को दिखाई दे तो आश्रम संपर्क नंबर 911805717 पर संपर्क कर सकते हैं, हम लोग तुरंत संबंधित व्यक्ति को सहायता करेंगे. आज के इस कायकर्म में सीताराम लाढसारिया, संरक्षक, अपना घर, कटक,
सुखदेव लाढसारिया, सचिव अपना घर,
नथमल लाढसारिया, संचालक, अपना घर
संजय अग़्रवाल, व्यवस्थापक, अपना घर
आनंद साहू, आदि लोग उपस्थित थे.

Leave a Reply

5 × five =